हेल्थ

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की नई पहल,घर-घर पुष्टाहार पहुंचाएंगी कार्यकर्ता

बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की नई पहल
बनी रहे प्रतिरोधक क्षमता, घर-घर पुष्टाहार पहुंचाएंगी कार्यकर्ता
पोषाहार के वितरण में भी पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश
ग़ाज़ीपुर, 6 अप्रैल 2020 । कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए इस समय पूरे देश में लॉक डाउन है । इन परिस्थितियों में आंगनबाड़ी केन्द्रों की भी सभी गतिविधियाँ ठ़प हैं । इसके चलते आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं/सहायिकाओं और अन्य कर्मचारियों को लॉक डाउन के दौरान दूसरे राज्यों और शहरों से गाँव लौटे लोगों की पहचान आदि के कार्यों में लगाया गया है । अब इसके साथ ही बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग ने एक नई पहल करते हुए लाभार्थियों के घर तक पुष्टाहार पहुँचाने का निर्देश भी प्रदेश के सभी जिलों को दिया है ।
विभाग के निदेशक शुत्रुघ्न सिंह का कहना है कि कोरोना वायरस का खतरा उनको ज्यादा रहता है जिनकी प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है । ऐसे में लोगों की प्रतिरोधक क्षमता बनी रहे, इसके लिए जरूरी है कि लाभार्थियों के घर तक पुष्टाहार पहुंचाने की व्यवस्था की जाए । इसके लिए यह भी जरूरी है कि इस कार्य से जुड़ी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका भी इस दौरान पूरी तरह से सतर्कता बरतें । पोषाहार के वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंशिंग का भी पालन करें ।
पत्र में कहा गया है कि पोषाहार का वितरण पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए, इसके लिए जरूरी है कि पुष्टाहार प्राप्त करने वाले लाभार्थी या उनके परिजनों के हस्ताक्षर अवश्य लिए जाएँ । आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा घर-घर जाकर पोषाहार के वितरण के सम्बन्ध में केंद्रवार 10, 13 और 16 अप्रैल की तिथि निर्धारित की गयी है । इसके लिए तिथिवार जिले स्तर से सभी बाल विकास परियोजना अधिकारी/जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रवार एक रोस्टर जारी किया जायगा ।
जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप कुमार पांडेय ने बताया कि आंगनवाड़ी घर-घर पहुंचाएंगी जरूरी सन्देश :
पुष्टाहार वितरण के साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता/ सहायिका कोरोना वायरस को हराने के लिए बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में भी लोगों को जागरूक करेंगी । जो इस प्रकार हैं-
– एक-दूसरे से एक मीटर की दूरी बनाये रखें
– खांसते-छींकते समय रूमाल या टीश्यू पेपर का इस्तेमाल करें।
– टीश्यू पेपर को बंद डस्टबिन में ही फेंकें
– कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए प्रदेश सरकार के हेल्पलाइन नंबर 18001805145 पर संपर्क करें । केंद्रीय हेल्पलाइन नंबर 91-11-23978046 पर भी फोन कर सकते हैं।
• लॉक डाउन का पालन करें और घर पर ही रहें।
न ही किसी के घर जाएँ और न ही किसी को अपने घर पर आमंत्रित करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *