मनोरंजन

पूर्वांचल की लोक कला और संस्कृति धोबिया नृत्य से रूबरू होंगे अमेरिकन राष्ट्रपति

आज़मगढ़।भारत आगमन पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रप और उनकी पुत्री पूर्वांचल की लोककला और संस्कृति से रूबरू होंगी। उत्तर प्रदेश सरकार  ने यह जिम्मेदारी धोबिया जैसे प्राचीन लोकनृत्य कला को जीवंत रखने वाले आजमगढ़ जिले के मुन्ना लाल यादव व उनकी टीम को सौंपी है। मुन्ना लाल शनिवार को अपनी 32 सदस्यीय टीम के साथ आगरा रवाना हुए। मुन्नालाल का मानना है कि विदेशी राष्ट्रपति के सामने अपनी प्राचीन कला के प्रदर्शन से जहांकलाकारों का मनोबल बढ़ेगा वहीं विलुप्त हो रही इन कलाओं को आगे बढ़ाने का अवसर प्राप्त होगा। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी पुत्री के साथ 24 फरवरी को आगरा पहुंच रहे है। इस दौरान वे न केवल ताज महल का दीदार करेंगे बल्कि यूपी और खासतौर पर पूर्वांचल की कला और संस्कृति से रूबरू होंगे।
इसकी तैयारियां जोरशोर से चल रही है। खुद सीएम योगी आदित्यनाथ तैयारियों की निगरानी कर रहे है। इस समारोह में पूर्वांचल की प्राचीन लोकनृत्य कला को प्रस्तुत करने की जिम्मेदारी आजमगढ़ के तरवां ब्लाक के
जियापुर गांव निवासी लोक कलाकार मुन्ना लाल यादव को सौंपी गयी है। मुन्नालाल आज अपनी 32 सदस्यीय टीम के साथ आगरा रवाना हुए है।  मुन्ना लाल यह सरकार की एक अच्छी पहल है कि गांव की लोक कलाओं को आगे बढ़ाया जा रहा है।आज कठघोड़वा, धोबिया, गोड़ऊ, कहरवा जैसी लोकनृत्य विधाए विलुप्त होने की
कगार पर पहुंच गयी है। यह कार्यक्रम न केवल हम कलाकारों को प्रेरित करेगी बल्कि इन कलाओं को आगे बढ़ाने का मौका देगी। उन्होंने कहा कि सरकार भी प्रयास कर रही है कि हमारी विलुप्त हो रही संस्कृति और सभ्यता को बचाया जाय उन्हें आगे बढ़ाया जाय। इससे हम कलाकारों को आत्मबल मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *